Recognize and Treat an Anemia Rash[हिन्दी]


एनीमिया और त्वचा की समस्याएं

विभिन्न कारणों से कई अलग-अलग प्रकार के एनीमिया हैं।
वे सभी शरीर पर समान प्रभाव डालते हैं: लाल रक्त कोशिकाओं की असामान्य रूप से कम मात्रा।
लाल रक्त कोशिकाएं शरीर के सभी अंगों में ऑक्सीजन ले जाने के लिए जिम्मेदार होती हैं।

कुछ प्रकार के एनीमिया होते हैं जिनके कारण आपको त्वचा पर चकत्ते हो सकते हैं, जो त्वचा पर असामान्यताएं हैं। कभी-कभी, यह दाने अनिविया के कारण हो सकते हैं और कई बार एनीमिया के इलाज के कारण भी हो सकते हैं।

एनीमिया के दाने के चित्र

Purpura

Pruritus from iron deficiency anemia

Petechiae

Petechiae and purpura

Purpura

Hives from an allergic reaction

एनीमिया के दानों का क्या कारण होता है और यह कैसे दिखते हैं।

अप्लास्टिक एनीमिया - Aplastic anemia


“अप्लास्टिक एनीमिया” एनीमिया चकत्ते के सबसे आम कारणों में से एक है। अप्लास्टिक एनीमिया एक दुर्लभ स्थिति है, लेकिन यह गंभीर हो सकता है। यह विकसित या माता-पिता से बच्चे में भी आ सकती है। यह अक्सर किशोरों और वयस्कों में देखा जाता है। नेशनल हार्ट, फेफड़े और ब्लड इंस्टीट्यूट के अनुसार, यह एशियाई देशों के मुकाबले दुनिया में कहीं भी दो से तीन गुना अधिक आम है।

एप्लास्टिक एनीमिया तब होता है जब शरीर की अस्थि मज्जा पर्याप्त नई रक्त कोशिकाएं नहीं बनाती है। लाल चकत्ते लाल या बैंगनी रंग के धब्बों से बने होते हैं, जिन्हें पेटीचिया के रूप में जाना जाता है। ये लाल धब्बे त्वचा पर उभरे या सपाट हो सकते हैं। ये शरीर पर कहीं भी दिखाई दे सकते हैं लेकिन गर्दन, हाथ और पैरों पर अधिक सामान्य होते हैं।

पेटीचियल लाल धब्बे आमतौर पर दर्द या खुजली जैसे किसी भी लक्षण का कारण नहीं होते हैं। आप ध्यान दें त्वचा को दबाने पर भी वे लाल होने चाहिए।

अप्लास्टिक एनीमिया में, न केवल लाल रक्त कोशिकाओं की कमी होती है,  साथ ही साथ प्लेटलेट्स का स्तर भी कम हो जाता है। कम प्लेटलेट गिनती के परिणामस्वरूप चोट लगने पर रक्तस्राव बड़ी आसानी से होता है और नील भी पढ़ सकते हैं और दाने भी आसानी से हो सकते हैं।

पूरे शरीर की छोटी रक्त धमनियों में रक्त के थक्के जमना - Thrombotic thrombocytopenic purpura

थ्रोम्बोटिक थ्रोम्बोसाइटोपेनिक पुरपुरा एक दुर्लभ रक्त विकार है जिसके कारण आपके पूरे शरीर में छोटे रक्त के थक्के बनते हैं। यह छोटे लाल या बैंगनी धब्बे के रूप में जाना जा सकता है जिसे पेटीचिया(Petechiae) के रूप में जाना जाता है, साथ ही अस्पष्टीकृत बैंगनी रंग के चकत्ते जो एक दाने की तरह दिख सकते हैं। Bruising(नील पड़ना) को पुरपुरा(Purpura) के नाम से जाना जाता है।

पैरोक्सिस्मल नोक्टेर्नल हेमोग्लोबिनुरिया - Paroxysmal nocturnal hemoglobinuria

Paroxysmal nocturnal hemoglobinuria एक बहुत ही दुर्लभ आनुवंशिक विकार(genetic disorder) है जिसमें एक आनुवांशिक उत्परिवर्तन(genetic mutation) के कारण आपके शरीर में असामान्य लाल रक्त कोशिकाओं का निर्माण होता है जो बहुत जल्दी टूट जाते हैं। यह रक्त के थक्के और अस्पष्टीकृत खरोंच या  त्वचा पर नील पैदा कर सकता है।

हीमोलाइटिक यूरीमिक सिंड्रोम - Hemolytic uremic syndrome

हेमोलिटिक युरेमिक सिंड्रोम एक ऐसी स्थिति है जिसमें “प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया” लाल रक्त कोशिकाओं के विनाश का कारण बनती है। प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया बैक्टीरिया के संक्रमण, कुछ दवाओं और यहां तक कि गर्भावस्था के दौरान शुरू हो सकती है। यह विशेष रूप से आपके चेहरे, हाथों या पैरों मैं अस्पष्टीकृत छोटी चोटो और सूजन का कारण बन सकता है।

अन्य कारण - Other causes

आयरन की कमी वाला एनीमिया “एनीमिया” के सबसे सामान्य प्रकारों में से एक है। किसी भी तरह की आयरन की कमी वाले लोगों में प्रुरिटस() विकसित हो सकता है, डॉक्टरों की भाषा में इसे “खुजली वाली त्वचा”(itchy skin) कहते हैं। जब आपको खुजली होती है तो आप अपनी त्वचा को खरोचते हैं जिसके कारण आपकी त्वचा लाल पड़ सकती है और आपको लाल चकत्ते या दाने हो सकते हैं।

कुछ मामलों में, आयरन की कमी वाले एनीमिया के इलाज के कारण भी लाल चकत्ते हो सकते हैं। “Ferrous sulfate” एक प्रकार की आयरन की दवाई है जो आयरन की कमी होने पर दी जाती है। कुछ लोग फेरस सल्फेट थेरेपी से एलर्जी(allergy) विकसित कर सकते हैं। इससे आपको खुजलीदार दाने और पित्ती विकसित हो सकती है। पित्ती(hives) या दाने हल्की सी सूजन के साथ शरीर पर कहीं भी हो सकते हैं।

आपको तुरंत चिकित्सक से बात करनी चाहिए, अगर आपको लगता है कि पित्ती या एलर्जी के चकत्ते “फैरस सल्फेट” के कारण है, खासकर यदि आप होंठ, जीभ या गले की किसी भी सूजन का अनुभव करते हैं।

एनीमिया के दाने का निदान - Diagnosing Anemia Rash

सबसे पहले डॉक्टर यह पता करेंगे कि आपको दाने एनीमिया के कारण हैं या किसी और बीमारी के कारण। यह पता करने के लिए डॉक्टर कुछ सामान्य एनीमिया के लक्षणों को देखेंगे। जैसे :
  1. पीली त्वचा (pale skin)
  2. थकान
  3. साँसों की कमी महसूस होना
डॉक्टर अप्लास्टिक एनीमिया की जांच कराने के लिए भी बोल सकते हैं अगर आपको इनमें से कोई लक्षण होते हैं। :
  1. तेज या असामान्य दिल की धड़कन
  2. आसानी से चोट लगना
  3.  लंबे समय तक चोट से खून बहना
  4.  चक्कर आना और सिर दर्द
  5.  नाक से खून बहना
  6.  मसूड़ों से खून बहना
  7.  बार-बार संक्रमण होना,  खासकर जब  संक्रमण को ठीक करने में लंबा समय लगे।
यदि आप चकत्ते या त्वचा में बदलाव महसूस कर रहे हैं, तो आपको अपने डॉक्टर या त्वचा विशेषज्ञ से मिलने के लिए एक नियुक्ति करनी चाहिए, खासकर अगर:
  1. दाने गंभीर हो और अचानक बिना कोई कारण होते हो
  2.  दाने आपके पूरे शरीर पर हो
  3. दाने दो सप्ताह से अधिक समय तक रहता है और घरेलू उपचार ठीक ना होते हो
  4. और अगर आप थकावट, बुखार, वजन घटने का अनुभव करते हैं।
यदि आप मानते हैं कि दाने नए आयरन की खुराक की प्रतिक्रिया है, जिसे आपने लेना शुरू कर दिया है, अपने चिकित्सक से बात करें।  यह आपको एलर्जी की प्रतिक्रिया हो सकती है या आपने बहुत अधिक दवाई ले ली है।

एनीमिया के दानों के लिए उपचार - Treatment for anemia rash

एनीमिया के दानों का इलाज करने का सबसे अच्छा तरीका है कि शरीर मैं अंतर्निहित स्थितियों  इलाज करना। अगर आपको अनिविया के दाने आयरन की कमी के कारण हैं तो संभवत डॉक्टर आपको आयरन की दवाई लेने के लिए बोलेंगे।

अप्लास्टिक एनीमिया का इलाज करना कभी-कभी अधिक कठिन होता है। अप्लास्टिक एनीमिया में इस्तेमाल किए गए उपचारों में शामिल हैं:

रक्त आधान - Blood Transfusions

रक्त आधान आपके लक्षणों को कम कर सकता है लेकिन अप्लास्टिक एनीमिया को ठीक नहीं कर सकता। आपको लाल रक्त कोशिकाओं और प्लेटलेट्स दोनों का आधान हो सकता है। आपके द्वारा प्राप्त किए जाने वाले रक्त आधानों की संख्या की कोई सीमा नहीं है। हालांकि, वे समय के साथ कम प्रभावी हो सकते हैं क्योंकि आपका शरीर ट्रांसफ़्यूस्ड(Transfused) रक्त के खिलाफ एंटीबॉडी(antibodies) विकसित करता है।

इम्यूनोसप्रेसेन्ट ड्रग्स - Immunosuppressant drugs

ये दवाएं उस क्षति को दबाती हैं जो प्रतिरक्षा कोशिकाएं आपके अस्थि मज्जा को कर रही हैं।  इन दवाइयों के कारण अस्थि मज्जा(bone marrow) पुनर्प्राप्त(recover) होता है और लाल रक्त कोशिकाएं बनती है।

स्टेम सेल प्रत्यारोपण - Stem cell transplants

यह दवाइयां अस्थि मज्जा को दोबारा बनने में मदद करती है ताकि पर्याप्त रक्त कोशिकाओं का निर्माण हो सके।

एनीमिया के दानों का रोकथाम - Preventing anemia rash

एनीमिया को रोका नहीं जा सकता है, इसलिए एनीमिया के चकत्ते को रोकने की कोशिश करने का सबसे अच्छा तरीका अंतर्निहित कारणों का इलाज करना है। सुनिश्चित करें कि आप अपने आहार के माध्यम से या आयरन की दवाइयों के माध्यम से आयरन की कमी को पूरा कर रहे हैं ताकि आपको आयरन की कमी से होने वाला एनीमिया  या कोई और आयरन की कमी से होने वाली बीमारी ना हो।


अगर आपको बिना किसी कारण एकदम से दाने हो जाते हैं तो अपने डॉक्टर से तुरंत बात करें।

Source:

Comments

Popular Posts